अगर मैं लाइव नहीं होती तो उसे एक घूंसा जड़ देती

सत्य खबर, ब्यूरो

टेनिस खिलाड़ी मैक्सिम हैमू पर फ्रेंच ओपन के आयोजनकर्ताओं ने टूर्नामेंट में हिस्सा लेने पर पाबंदी लगा दी है. उन्होंने एक टीवी इंटरव्यू के दौरान एक महिला पत्रकार को चूमने की कोशिश की थी. फ्रेंच खिलाड़ी मैक्सिम ने यूरोस्पोर्ट चैनल की 21 साल की पत्रकार मैली थॉमस को उस वक्त चूमने की कोशिश की जब वो उनके गर्दन और कंधों पर हाथ रख उन्हें थामे हुए थे. इस दौरान मैली ख़ुद को झुककर बचाने की कोशिश करती हुई नज़र आईं. फ्रेंच टेनिस फेडरेशन ने मैक्सिम की इस हरकत की कड़ी आलोचना की है और इसे ‘निंदनीय व्यवहार’ बताया है. फेडरेशन ने इस मामले में जांच के आदेश भी दिए है.

हालांकि मैक्सिम हैमू ने अपने इस व्यवहार के लिए माफी मांग ली है. यह घटना तब हुई जब मैक्सिम हैमू फ्रेंच ओपन के पहले राउंड से ही हारकर बाहर हो गए. हैमू ने फेसबुक पर लिखा, “इंटरव्यू के दौरान मेरे व्यवहार से अगर मैलि थॉमस को चोट पहुंची है तो मैं उनसे माफी मांगता हूं.” वहीं हफिंगटन पोस्ट फ्रांस ने मैलि थॉमस के हवाले से लिखा है, “अगर मैं लाइव नहीं होती तो उसे एक घूंसा जड़ देती.” इससे पहले जनवरी, 2016 में वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम के बल्लेबाज क्रिस गेल ने एक लाइव टीवी इंटरव्यू के दौरान टीवी रिपोर्टर को डेट पर ले जाने की पेशकश कर दी थी. उनके इस रवैये की कड़ी आलोचना हुई थी और उन पर भारी जुर्माना लगा था.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

error: Copy... Paste is not allowed...