कल हो जाएगा इनेलो की जंग का फैसला चौटाला ने गुरुग्राम में बुलाई बैठक

सत्यख़बर, गुरुग्राम-

इनेलो परिवार में चल रही जंग में कल यानी गुरुवार को बड़ा निर्णायक फैसला आ सकता है। आज चौटाला के घर गुरुग्राम में पार्टी के बिखराव को रोकने औरकी संभावनाएं लगभग समाप्त हो गई ।जिन पर ओम प्रकाश चौटाला कल अपना निर्णय सुनाने वाले हैं।

बुधवार के दिन चौटाला परिवार ने चाचा भतीजे की जंग को समाप्त करने के लिए भरसक प्रयास किए लेकिन बात सिरे नहीं चढ़ पाई। चाचा भतीजे को एक करने के लिए आज रिश्तेदार भी चोटाला के आवास पर इकट्ठा हुए ,लेकिन दोनों के बीच कड़वाहट इतनी ज्यादा है कि रिश्तेदारों के प्रयास भी असफल हो गए। दरअसल कल ओम प्रकाश चौटाला को जेल वापस जाना है और उन्होंने अपने रिश्तेदारों के साथ मिलकर दुष्यंत को मनाने का आखरी प्रयास किया। बताया जा रहा है कि परिवारिक रिश्तेदारों जिनमें ओम प्रकाश चौटाला की तीनों पुत्रियां भी शामिल थी । सबने दुष्यंत पर अभय चौटाला के नेतृत्व में काम करने के लिए दबाव बनाया लेकिन दुष्यंत ने साफ मना कर दिया।
सूत्र बताते हैं कि दुष्यंत चौटाला ने साफ तौर पर कहा कि जिस प्रकार से अभय चौटाला द्वारा उनके पिता दुष्यंत चौटाला के साथ समर्थकों और युवा कार्यकारिणी में काम करने वाले पार्टी के कार्यकर्ताओं को खुड्डा लाइन लगाया जा रहा है। ऐसे में अभय चौटाला के साथ काम करना मुमकिन नहीं है। दिन भर चली कसम कस के बाद अब अभय चौटाला द्वारा गुरुग्राम में पार्टी के पदाधिकारियों की बैठक बुलाई है।
माना जा रहा है कि ओम प्रकाश चौटाला इस बैठक में पार्टी को लेकर बड़ा निर्णय लेने वाले हैं और अभय चौटाला ओम प्रकाश चौटाला से ही पार्टी को लेकर घोषणा करवाना चाहते हैं। सूत्र बताते हैं कि इस बैठक में दुष्यंत चौटाला और दिग्विजय चौटाला को नहीं बुलाया गया है।  ऐसे में साफ है कि ओम प्रकाश चौटाला का निर्णय दुष्यंत चौटाला के हक में जाता नहीं दिखाई दे रहा।
अब इनेलो की इस परिवारिक लड़ाई का क्या निर्णय होने वाला है। यह तो कल की गुरुग्राम में होने वाली इनेलो की बैठक ही तय करेगी।
error: Copy... Paste is not allowed...