ब्रेकिंग – पलवल के बाद फतेहाबाद में फंडिंग के जरिए मस्जिद बनाने का हुआ खुलासा

सत्यखबर फतेहाबाद (जसपाल सिंह) -गांव हसंगा में एक मुस्लिम परिवार को बाहर के अज्ञात लोगों ने की फंडिंग, पुलिस और खुफिया विभाग की लापरवाही आई सामने, बाहर से आए लोगों के बारे में पुलिस और प्रशासन को नहीं जानकारी, अब मामला सामने आने पर पुलिस ने कही जांच और कार्रवाई की बात, सरपंच बोले-पंचायती जगह पर गरीब मुस्लिम परिवार रह रहा था, मुंबई, पंजाब से आए कुछ मुस्लिम लोगों ने परिवार को फंडिंग कर मस्जिद बनाने की तैयारी की थी, लेकिन गांव वालों के विरोध के बाद वापिस लौट गए थे मुस्लिम लोग, गांवो के लोगो ने बाहर से फंगि के लिए आए मुस्लिमो की मोबाईल मे बनाई विडियो, करीब एक माह पहले का बताया जा रहा है मामला, फतेहाबाद बजरंग दल का दावा मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस को दी थी सारे मामले की जानकारी, लेकिन पुलिस ने नही की कोई कारवाई, भूना थाना एसएचओ बोले-उच्चाधिकारियों के आदेशों पर मामले में करेंगे जांच, होगी कार्रवाई।

पलवल के बाद अब हरियाणा के फतेहाबाद जिले के एक गांव में मस्जिद बनाने के लिए पैसे पहुंचाए जाने मामला सामने आया है। गांव हसंगा में बाहर के कुछ लोग आए और उन्होंने गांव में रहने वाले एक गरीब मुस्लिम परिवार को उसके रहने वाली पंचायती जगह पर मस्जिद बनाने का प्लान तैयार किया था। सितंबर महीने में फंडिंग के जरिए मस्जिद बनाने का यह मामला तब पंचायत ने पकड़ लिया था क्योंकि जिस जगह पर गरीब मुस्लिम परिवार सालों से रह रहा था वो जगह पंचायती जगह है। इसके बाद बाहर से आए लोग बाचतीत कर मौके से निकल गए। लेकिन बड़ी बात ये रही कि पुलिस और प्रशासन को शिकायत के बावजूद बाहर से आए लोगों की ना तो कोई पहचान की गई और ना ही परिवार से ये पूछताछ की गई कि वे बाहर के लोगों के संपर्क में कैसे आए?

गांव के सरपंच के अनुसार इस परिवार का युवक कलदीप खान संदिग्ध गतिविधियों में शामिल है और कई आपराधिक मामलो में पुलिस उसकी तलाश करते हुए अक्सर गांव में आती रहती थी। अब भी बताया जाता है कि उक्त आरोपी युवक किसी मामले मे पंजाब के संगरूर ईलाके मे पुलिस की गिरफत मे है। फिलहाल पुलिस ने पलवल के मामले के बाद फतेहाबादद में फंडिंग के जरिए मस्जिद बनाने के मामले की जांच की बात कही है। भूना थाना एसएचओ ने बताया कि ग्रामीणों और संगठनों की शिकायत उच्चाधिकारियों के पास पहुंची है तो उच्चाधिकारियों के आदेशों और शिकायत प्राप्त होने पर वह मामले में जांच कर उचित कार्रवाई करेंगे।

वही इस मामले मे फतेहाबाद बजरंग दल के जिला संयोजक विकास ने बताया कि गांवो हसंगा मे मस्जिद निर्माण को लेकर गाहरी फंडिग के मामले की जानकारी उनके द्वारा पुलिस को भी दी गई थी, लेकिन पुलिस की ओर से मामले मे कोई कारवाई नही की गई। उन्होने बताया कि उसके बाद उन्होने गांवो के सरंपच को मामले को लेकर आगाह किया। जिसके बाद सरंपच की ओर से गांवो मे पंचायत बुलाकर मस्जिद के निर्माण पर रोक लगा दी और गांवो मे रह रहे मुस्लिम परिवार को गांवो छोडकर चले जाने की बात कही। क्यों कि उक्त परिवार के द्वारा ही बिचौलिए का रौल अदा कर बाहरी लोगो को फंडिग के लिए बुलाया गया था। विकास ने कहा कि उन्हे पूरा अंदेशा है कि इसमे टेरर फंडिग होनी थी, क्यों कि जिस गांवो मे मंस्लिमो की संख्या ना के बराबर है उसमे मस्जिद बनाने का काम इसी लिए ही किया जा सकता है।

error: Copy... Paste is not allowed...