बहादुरगढ़ में नहरी विभाग के कर्मचारियों की बड़ी लापरवाही, पानी मे बह कर आये शव को मिट्टी में दबाया!

सत्यखबर बहादुरगढ़ (योगेन्द्र सैनी) – नहरी विभाग के कर्मचारियों की बड़ी लापरवाही सामने आई है। नहरी विभाग के कर्मचारियों ने पानी में बह कर आए एक व्यक्ति के शव को नहर से निकाल कर मिट्टी में दबा दिया। मामला बहादुरगढ़ के रोहद गांव से गुजर रही एनसीआर माइनर का है। एनसीआर माइनर मैं कल सुबह के समय सफाई का काम चल रहा था। उसी दौरान क्रेन के पंजे में एक व्यक्ति का शव निकल आया। जिसे नहरी विभाग के कर्मचारियों की लापरवाही और संवेदनहीनता के चलते मिट्टी में दबा दिया गया।

चश्मदीद ग्रामीणों की मानें तो उन्होंने विभाग के कर्मचारियों को ऐसा करने से मना भी किया था। लेकिन उन्होंने ग्रामीणों की एक नहीं सुनी। और व्यक्ति के शव को किसी पशु का शव समझ कर अन्य पशुओं के शवों के साथ मिट्टी में दबा दिया। बाद में ग्रामीणों ने इसकी सूचना आसौदा पुलिस थाने को दी। जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और आज ड्यूटी मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में शव को बाहर निकाला गया। पुलिस जांच अधिकारी का कहना है कि शव की हालत बेहद खराब है और गली सड़ी अवस्था में होने के कारण इसकी पहचान भी नहीं हो सकी है।

इसलिए शव को पोस्टमार्टम के लिए पीजीआई रोहतक भेजा गया है। वहीं पुलिस पूरे प्रकरण की जांच में जुट गई है। इस घटना में नहरी विभाग के कर्मचारियों की भारी संवेदनहीनता सामने आई है। मृतक के शव को इस तरह से पानी से निकालकर मिट्टी में दबाना भी एक तरह का जुर्म है। हालांकि पुलिस फिलहाल इसे विभाग के कर्मचारियों द्वारा गलती से की गई लापरवाही ही करार दे रही है।

error: Copy... Paste is not allowed...