जाने कैसे कुंवारे होकर भी अटल के पास थी बेटी नमिता! कैसे और कहां मिली थी उन्हें नमिता कौल

सत्य खबर नई दिल्ली (ब्यूरो रिपोर्ट )

ये तो सभी जानते है पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी शादीशुदा नहीं थे। लेकिन वो ये बात  खुद कहते थे कि मैं बारात नहीं चढ़ा तो इसका मतलब ये भी नहीं कि मैं जीवनभर कुंवारा रहा। अटलजी ने 70 के दशक में नमिता कौल को अपनी दत्तक पुत्री के रूप में स्वीकार किया था । जब अटल का निधन हुआ तो उनकी दत्तक पुत्री ने अटल को मुखाग्नि दी।

नमिता उम्र के पांचवें दशक में हैं । वर्ष 1983 में जब नमिता की शादी हुई तो वो उनके दत्तक पिता अटल की रजामंदी के बाद ही. असल में नमिता के माता और पिता राजकुमारी कौल और ब्रिज नारायण कौल हैं । लेकिन 70 के दशक में जब नमिता युवा थीं, तभी अटल ने उन्हें आधिकारिक तौर पर दत्तक पुत्री के रूप में अपनाने का फैसला किया। कौल परिवार एक तरह से अटल का अपना ही परिवार बन चुका था ।

राजकुमारी कौल ग्वालियर के विक्टोरिया कॉलेज में अटलजी के साथ ही पढ़ती थीं । बाद में उनकी शादी ब्रिज नारायण से हुई, जो दिल्ली के रामजस कॉलेज में प्रोफेसर थे । अटल दिल्ली आने के बाद फिर परिवार के संपर्क में आए । धीरे धीरे ये उनका अपना ही परिवार बन गया ।

नमिता और रंजन की दोस्ती जो प्यार में बदली

राजकुमारी कौल की दो बेटियां थी । बड़ी नमिता और छोटी नम्रता । नम्रता डॉक्टर हैं और लंबे समय से अमेरिका में रह रही हैं । ब्रिज नारायण के निधन के बाद अटल ही कौल परिवार के संरक्षक और अभिभावक बन गए । 70 के दशक में नमिता ने दिल्ली के श्रीराम कॉलेज ऑफ कामर्स में एडमिशन लिया । यहीं से वो ग्रेजुएट हुईं । इसी कॉलेज में उनकी दोस्ती रंजन भट्टाचार्य से हुई, जो इकोनॉमिक्स आनर्स में थे । दोनों की दोस्ती प्यार में बदल गई. बताया जाता है कि वर्ष 1976 से ये अफेयर 1983 तक चलता रहा ।दोनों की शादी 1983 में दिल्ली से ही अटल की रजामंदी के बाद ही हुई । नमिता की एक बेटी है, जिसका नाम निहारिका है । निहारिका के साथ अटल काफी समय गुजारते थे । वो अब 23 साल की हैं. दिल्ली यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएट हैं ।

अटल की सरकार पहली बार 13 दिनों के लिए बनी, तब जिन चुनिंदा लोगों की नियुक्ति प्रधानमंत्री के तौर पर उन्होंने की थी । उसमें रंजन भी थे । रंजन को पीएमओ में ऑफिसर ऑन स्पेशल ड्यूटी नियुक्त किया गया था । इस पर सियासी विवाद भी हुआ था । बाद में अटल जब प्रधानमंत्री के रूप में विदेशी दौरों में गए तो उनके साथ कई दौरों में रंजन और नमिता भी शामिल होते थे ।

 

error: Copy... Paste is not allowed...