15 से 20 मिनट मे खाद्य पदार्थ की जांच! आप भी जानिए आप जो खा रहे है कितना शुद्ध है वो। कैसे जाने तो देखे ये रिपोर्ट  

सत्य खबर फतेहाबाद (जसपाल सिंह )

हरियाणा सरकार की एक और नयी पहल। घर में प्रयोग होने वाले खाद्य पदार्थ आपकी सेहत के लिए ठीक है या नहीं। इसकी अब आप जांच करवा सकेंगे। इसके लिए सैंपल आपको चंडीगढ़ भेजने की जरूरत नहीं पड़ेगी। यहां तक कि 20 मिनट में ही आपको रिपोर्ट मिल जाएगी। स्वास्थ्य विभाग की तरफ से मोबाइल फूड टेस्टिग लैब शुरू की है जो कि जिले में पहुंच चुकी है। अस्पताल स्तर पर ये मोबाइल वैन खाद्य पदार्थों की जांच करेगी। 15 दिन तक ये मोबाइल वैन जिले में रहेगी। इसके बाद 6 महीने बाद दोबारा जिले में आएगी। लोगों को खाद्य पदार्थों के सैंपल के प्रति जागरूक करने के लिए इसकी शुरूआत की है। केंद्र सरकार की तरफ से मोबाइल फूड टेस्टिग लैब की शुरूआत की गई है। ताकि लोग जान सकें वह जिन खाद्य-पदार्थों का प्रयोग कर रहे हैं वह सेहत के लिए ठीक है या नहीं। इसके चलते कलस्टर पर इसकी शुरूआत की गई है।

यह वैन मात्र 15 से 20 मिनट मे खाद्य पदार्थ की जांच रिर्पोट तैयार कर देगी। जांच के लिए 20 रूपये की फीस निर्धारित की गई है। इसमे व्यक्ति घर में प्रयोग होने वाले खाद्य पदार्थ जैसे की आटा, मैदा, मिल्क प्रोडक्ट, मसाले, दालें, सूखा, धनिया व चावल, सरसों का तेल की जांच करवा सकेंगे। इससे पहले फतेहाबाद मे कोई भी ऐसी लैब नहीं जहां पर खाद्य पदार्थों की जांच करवाई जा सकें। संबंधित विभाग के अधिकारी भी दुकानों से खाद्य पदार्थों के सैंपल लेकर जांच के लिए लैब में भेजते हैं यहां से रिपोर्ट आने में करीब डेढ से दो महीने लग जाते हैं। वैसे मोबाइल फूड टेस्टिग लैब की रिपोर्ट कानूनी तौर पर मान्य नहीं होगी। इसमें टेक्नीकल अधिकारी अभिमन्यु को वैन मे टेस्टिंग का जिम्मा सौंपा गया है। वही फूड इंस्पेक्टर सुरेंद्र पुनिया की ओर से लोगो से अपील की गई है  कि  वह इस वैन मे अपने खाद्य पदार्थो की जांच करवाए। ताकि खाद्य पदार्थ की सही गुणवता का पता चल सके। अब  तक इस वैन की ओर से 670 सैंपल पूरे प्रदेश से लिए गए है, जिनमे ज्यादातर सैंपल दूध के फैल आए है। दूध मे पानी की मिलावट की शिकायत ज्यादतर सामने आई है।

error: Copy... Paste is not allowed...