मजदूर ने फांसी के फंदे पर झूलकर दी जान! मृतक पश्चिम बंगाल का रहने वाला

सत्यखबर, नूंह मेवात (ऐ के बघेल) – सटकपुरी गांव में स्थित नल नफीस बूचड़खाने में पश्चिम बंगाल के रहने वाले मजदूर ने बीती रात अपने कमरे के पंखे में फांसी का फंदा लगाकर अपनी जान दे दी। पिनगवां पुलिस ने मौके पर पहुंचकर हालात का जायजा लेते हुए परिजनों को खबर करने के अलावा एफएसएल की टीम को बुलाया है। शुरूआती जांच में पुलिस इसे आत्महत्या मानकर चल रही है ,लेकिन असली वजह का पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने और जांच पूरी होने के बाद ही पता चल सकेगा। पडोसी गांव के लोगों खबर सुनते ही फैक्टरी के गेट के बाहर जुटना शुरू कर दिया। मृतक मजदूर के दोस्त के मुताबिक दोनों ने साथ खाना खाया और खाने के बाद उसके साथी फ़ोन पर बातचीत करने लगा। उसके बाद वे अपने -अपने कमरों में चले गए।

मजदूर का नाम हसीबुल पुत्र हालीमुद्दीन निवासी पश्चिम बंगाल उम्र 25 वर्ष बताई जा रही है।
अल नफीस बूचड़खाने पिछले कई दिनों से विवादों में घिरा हुआ है। पशु लाने का काम करने वाले ठेकेदारों का कंपनी प्रबंधन पर करोड़ों रुपये बकाया है। कई दिनों से लोग कंपनी प्रबंधन के खिलाफ धरना प्रदर्शन कर रहे हैं। जिसके चलते कुछ दिन से कामकाज ठप बताया जा रहा है। कंपनी प्रबंधन ठेकेदारों के विरोध के चलते सामने नहीं आ रहा है। ऐसे में हुई मजदूर की मौत की वजह क्या है। इसकी गहनता से जांच की जरुरत है। इलाके में एकमात्र बड़ा उद्योग धंधा होने की वजह के पुलिस का रवैया भी लचीला ही रहता है। कुल मिलाकर अगर सच्चाई से और त्वरित जांच की जाये तो कई राज उजागर हो सकते हैं। पुलिस आगामी कार्रवाई में जुटी है।

error: Copy... Paste is not allowed...